सलुम्बर क्षेत्र की एक मात्र मीठे पानी की जयसमन्द झील में पानी की आवक।


उदयपुर जिले में विश्वविख्यात एशिया की दूसरी सबसे बड़ी जयसमंद झील का नजारा मनमोहक होने लगा है। बारिश के बाद 9 नदी और 99 नालों में पानी की आवक के चलने जलस्तर बढ़ कर करीब 18 फिट के ऊपर जा पहुचा है।



ग्रामीणों को जयसमंद झील के ओवरफ्लो का बेसब्री से इंतजार है जयसमंद झील की पाल पर हाथी बनाए हुए हैं। कहा जाता है कि झील का पानी हाथी के पैर छूने पर ओवरफ्लो हो जाता है यानी 27 फिट के करीब जलस्तर होने पर ओवरफ्लो पानी निकलता है। 



जयसमंद का ओवरफ्लो पानी गुजरात तक पहुचता है। रविवार को यहाँ पर देश विदेश के लोगों का जमावड़ा रहता है। यहाँ तक आस पास के पर्यटक नावों में बोटिंग करने आते है।




रिपोर्ट: देवानंद दमामी
live-tv-namaste-gaon.png

recent posts

Recent Posts Widget

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

2 साल बाद फिर से छलकी जयसमंद झील, रात करीब 12.32 मिनट पर छलका जयसमन्द झील का पानी

भीड़ के इस इन्साफ से मानवता पर सवाल , युवक के साथ दुराचार

सलुम्बर । ईडाणा माता मंदिर का दान पात्र खुला, निकले 19 लाख नकद, 3 किलो चांदी और 1 तोला सोना

जयसमन्द झील छलकने को आतुर

कानोड के केसरपुरा में युवती ने लगाई फांसी

उदयपुर-चित्तौडग़ढ़ सहित 6 ज़िलों में भारी बारिश की सम्भावना, प्रशासन अलर्ट पर

सलूंबर | बस्सी में भैंस चराते बुजुर्ग के कान की बालियां लूटी, पुलिस ने की नाकाबंदी

लूणदा में बैखौफ हुए चोर, बुजुर्ग को मारी ईंट

भीण्डर । पूर्व पालिकाध्यक्ष देवेन्द्र सिंह व वल्लभनगर विधायक गजेन्द्र सिंह की माता कैलाश कुंवर का निधन

भिंडर के सालेड़ा में आकाशीय बिजली से हुए हादसे में मृतको के परिजनों को मुख्यमंत्री राहत कोष से चार-चार लाख रुपये के चेक दिए