arrow_back
COVID-19 UPDATE -> Italians*: 2  | Jaipur: 168  | Jhunjhunu: 31  | Bhilwara: 28  | Jodhpur: 34  | Pali: 2  | Sikar: 1  | Pratapgarh: 2  | Dungarpur: 5  | Churu: 11  | Ajmer: 5  | Evacuees: 40  | Alwar: 5  | Tonk: 27  | Dhaulpur: 1  | Udaipur: 4  | Bharatpur: 8  | Bikaner: 20  | Dausa: 6  | Banswara: 12  | Karauli: 2  | Nagaur: 1  | Jaisalmer: 19  | Kota: 17  | Jhalawar: 9  | Barmer: 1  | EVACUEES: 2  |
प्रधानमंत्री ने 21 दिनों के लिए पूरे हिंदुस्तान में संपूर्ण लॉकडाउन का किया ऐलान

देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश को संबोधित करते हुए बताया कि आज रात 12 बजे से 21 दिनों के लिए पूरे देश में संपूर्ण लॉकडाउन रहेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि हिंदुस्तान को बचाने के लिए, हिंदुस्तान के हर नागरिक को बचाने के लिए आज रात 12 बजे से, घरों से बाहर निकलने पर पूरी तरह पाबंदी लगाई जा रही है। देश के हर राज्य को, हर केंद्र शासित प्रदेश को, हर जिले, हर गांव, हर कस्बे, हर गली-मोहल्ले को अब लॉकडाउन किया जा रहा है।

संक्रमण के चक्र को तोड़ना हैं तो 21 दिनों तक अपने घर से बाहर कदम ना रखें

मोदी ने कहा कि घर में रहें, घर में रहें और एक ही काम करें कि अपने घर में रहें। आज के फैसले ने, देशव्यापी लॉकडाउन ने आपके घर के दरवाजे पर एक लक्ष्मण रेखा खींच दी है। 21 दिन पूरा भारत घर में र​हें बंद। मोदी ने हाथ जोड़ कर सब से विनती की है। 

आने वाले 21 दिन हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो, कोरोना वायरस की संक्रमण साइकिल तोड़ने के लिए कम से कम 21 दिन का समय बहुत अहम है। संक्रमण के चक्र को तोड़ना के लिए। साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग यानी एक-दूसरे से दूर रहना। कोरोना से बचने का इसके अलावा कोई तरीका नहीं है। इसे फैलने से रोकना है तो उसके संक्रमण के चक्र को तोड़ना ही होगा। 

लॉकडाउन की आर्थिक कीमत देश को उठानी पड़ेगी

प्रधानमंत्री ने बताया कि निश्चित तौर पर इस लॉकडाउन की एक आर्थिक कीमत देश को उठानी पड़ेगी। लेकिन एक-एक भारतीय के जीवन को बचाना इस समय मेरी, भारत सरकार की, देश की हर राज्य सरकार की, हर स्थानीय निकाय की, सबसे बड़ी प्राथमिकता है।

केन्द्र सरकार कोरोना मरीजों के इलाज के लिए 15 हजार करोड़ रुपए करेंगी खर्च

कोरोना के मरीजों के इलाज के लिए स्वास्थ्य ढांचे को मजबूत बनाने के लिए केंद्र ने 15 हजार करोड़ रुपए का काम करेंगी। नए आइसोलेशन बेड, आईसीयू बेड, प्रयोगशालाएं आदि बढ़ाई जाएंगी। मेडिकल और पैरामेडिकल की ट्रेनिंग का काम भी किया जाएगा। राज्यों से अनुरोध किया है कि स्वास्थ्य सेवा ही सभी की प्राथमिकता होनी चाहिए। देश का प्राइवेट सेक्टर भी संकट और संक्रमण की इस घड़ी में देशवासियों के साथ खड़ा है। प्राइवेट लैब और अस्पताल सरकार के साथ काम करने के लिए आगे आ रहे हैं। 

अफवाहें व अंधविश्वास से रहें दूर

मोदी ने कहा कि ध्यान रखिए कि ऐसे समय में जाने-अनजाने अफवाहें भी जोर पकड़ती हैं। मेरा आग्रह है कि किसी भी तरह की अफवाह और अंधविश्वास से बचें। केंद्र सरकार, राज्य सरकार और मेडिकल संस्थानों द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करना बहुत जरूरी है। बिना डॉक्टरों की सलाह के कोई भी दवा ना लें। 

खिलवाड़ आपके जीवन को और खतरे में डाल सकता है। मुझे विश्वास है कि हर भारतीय संकट की इस घड़ी में सरकार के निर्देशोें का पालन करेगा। 21 दिन का समय लंबा है, आपके जीवन, आपके परिवार की रक्षा के लिए हमारे पास यही एक रास्ता है। भरोसा है कि हर हिंदुस्तानी इस संकट का मुकाबला करेगा, बल्कि इस मुश्किल घड़ी से विजयी होकर निकलेगा। 

अपना, अपनों का ध्यान रखिए। आत्मविश्वास के साथ कानून-नियमों का पालन करते हुए, संयम बरतते हुए, विजय का संकल्प करते हुए, हम सब इन बंधनों का पालन करें।

COVID-19  (RAJASTHAN)
LAST UPDATED ON FRI APR 10 2020, 10:01:00 AM
कुल मामले
463
सक्रिय
400
स्वस्थ हुए
60
कुल मृत्यु
3
खबर पढ़े  ➜ लाइव ट्रैकर  ➜
CORONA-VIRUS

HOT

NATIONAL

36 तालियाँ

यह लेख हमारे संपादक द्वारा पत्रकार द्वारा, प्रदान की गई जानकारी के आधार पर पढ़ा और संपादित किया जाता है। हालांकि हमने लेख को सत्यापित करने की पूरी कोशिश की। लेकिन हम किसी गलत सूचना, अधूरी जानकारी, टाइपिंग गलतियों, तकनीकी त्रुटियों आदि के लिए उत्तरदायी नहीं हैं।

अपने नगर के आस पास की सभी खबरें पढ़ें।
आगे बढ़ें  ➜

सम्बंधित खबरें


Quiz ➜
जीते ₹300 तक